Remdesivir क्या है और ये कैसे बचाती है मरीज की जान? क्या होता है Dexamethasone?

भारत में कोरोना की दूसरी लहर अब धीरे-धीरे कम हो रही है। जहाँ कुछ दिन पहले तक प्रतिदिन 4 लाख मामले सामने आ रहे थे। वहीं वो मामले अब गिरकर 3 लाख के पास पहुंच गए हैं। पिछले 24 घंटों में भारत में तजा आंकड़ों की संख्या 3 लाख 10 हजार के करीब रही थी। बहुत से एक्सपर्ट्स ने ये दवा किया था की भारत में 15 मई के बाद कोरोना के मामलों में गिरावट हो सकती है। अभी फिलहाल भारत में यही देखने के मिल भी रहा है। अगर स्थिति ऐसे ही तेजी से सुधरती है तो ये भारत के लिए शुभ संकेत हो सकता है।

बता दें की इस समय देश में वैक्सीनेशन का काम भी चल रहा है, पर प्रचुर मात्रा में वैक्सीन न होने से इस रफ्तार में भी गिरावट देखने को मिली है। गौरतलब है की भारत सरकार ने कई देशों को कोरोना सहायता के रूप में वैक्सीन दी थी। पर अब जब देश में वैक्सीन की कमी हुई तो सरकार की इस निति पर सवाल उठने लाजमी थे। हालाँकि भारत सरकार ने कहा है की अगस्त से लेकर दिसंबर 2021 के बीच देश में 216 करोड़ वैक्सीन बनाई जाएगी। सरकार की इस घोषणा के बाद बहुत से लोगों में खुशी जरूर है।

पर फिलहाल जिन्हें भी वैक्सीन चाहिए उन्हें नंबर नहीं मिल पा रहा है। कोरोना के इस काल में कोरोना वैक्सीन के बाद दूसरी सबसे ज्यादा फेमस चीज इंडिया में Remdesivir है। मालूम हो की कोरोना के इस दौर में इस दवा की इतनी ज्यादा मांग हुई की ये मार्किट से ही गायब हो गयी। इस दवा की कीमत 1000 रूपए के करीब है पर भारत में अप्रैल और मई के महीने में इसे 30 हजार से लेके 70 हजार रूपए तक बेचा गया है। बहुत से लोग मानते हैं की ये लाइफ सेविंग दवा है। खान सर जानिए क्या होता है Remdesivir और ये कैसे मरीजों की बचाता है जान? इसके अलवा Dexamethasone के बारे में भी जानिये!

Red Play बटन पर क्लिक करके देखिये वीडियो!

हालाँकि बहुत से डॉक्टर्स ऐसा नहीं मानते। डॉक्टर्स का मानना है की ये दवा इन्फेक्शन को जरूर घटाती है पर ये जीवन रक्षक नहीं है। Remdesivir के अलवा एक और दवा है Dexamethasone कोरोना के इस दौर में ये दवा भी खूब फेमस हो रही है। इसका इस्तेमाल भी कोरोना के मरीजों के लिए किया जा रहा है। इन दोनों दवाओं के बारे में अभी भी कई लोगों को बहुत कन्फूजन है। बता दें भारत में Remdesivir की ब्लैक मार्केटिंग तो हुई ही है इसके अलवा  इस दवा की नकली खेप देश में कई जगहों से बरामद की गयी है जोकि बहुत ही घातक साबित हो सकती है।