कोरोना का टेस्ट करने के मामले में यूपी-बिहार रहा सबसे आगे, टॉप 5 में हैं ये राज्य!

कोरोना वायरस 2019 शॉर्ट में कहे तो COVID 19, साल 2019 में जन्मे इस वायरस से पूरी दुनिया अब तक परेशान है और अब तक इस वायरस को कोई सटीक इलाज नहीं मिल पाया है। कोरोना वायरस ने जब 2020 के मध्य में पूरी दुनिया में अपने पैर तेजी से पसारने शुरू कर दिए थे, तब एक बात अधिकतर एक्सपर्ट्स मानना था की कोरोना को हम अधिक से अधिक टेस्ट्स करके ही रोक सकते हैं। हालाँकि जून में भारत में कोरोना की टेस्टिंग स्पीड कुछ खास अच्छी नहीं थी पर जैसे-जैसे समय बिता भारत ने कोरोना टेस्ट्स की संख्या को तेजी से बढ़ा दिया और इसी वजह से भारत में अब तक 17 करोड़ से भी अधिक कोरोना के टेस्ट्स किये जा चुके हैं। भारत के कई राज्यों ने कोरोना टेस्ट करने में काफी फुर्ती दिखाई जबकि कुछ राज्य टेस्ट करने में उतने आगे नहीं दिखे, आज हम आपको भारत के उन 5 राज्यों के नाम बताने जा रहें हैं जिन्होंने कोरोना के सबसे अधिक टेस्ट किये हैं।

1.उत्तर प्रदेश 

कोरोना का टेस्ट करने के मामले में उत्तर प्रदेश भारत में सबसे आगे रहा, यहाँ अब तक कोरोना के 2 करोड़ 37 लाख से भी अधिक टेस्ट्स किये जा चुके हैं। इसी का नतीजा है की राज्य में कोरोना के एक्टिव मामलों की संख्या यहाँ काफी कम है। बता दें की यूपी में अब तक कोरोना के कुल 5 लाख 86 हजार 752 मामले सामने आये हैं, फिलहाल राज्य में एक्टिव मामलों की संख्या केवल 13832 है।

2.बिहार

कोरोना माहमारी की शुरुवाती दौर और कुछ हद तक कहे की जुलाई – अगस्त तक बिहार में कोरोना के टेस्ट्स काफी कम हो रहे थे, जिसके चलते केंद्र सरकार की टीम जब बिहार दौरे पर गयी थी, तब उसने बिहार के ऑफिसर्स को टेस्टिंग में लापरवाही बरतने के लिए फटकार भी लगाई थी। जिसके बाद से ही यहाँ टेस्टिंग की संख्या में काफी तेजी आयी और अब ऐसे हालत हैं की बिहार अब तक 1 करोड़ 84 लाख से भी अधिक कोरोना के टेस्ट कर चूका है और टेस्टिंग करने के मामले में इसी के साथ राज्य दूसरे पायदान पर पहुंच चूका है। बता दें की बिहार में कोरोना के एक्टिव मामलों की संख्या अब केवल 4766 है।

3.तमिलनाडु

कोरोना की टेस्टिंग करने के मामले में साउथ इंडिया का राज्य तमिलनाडु भी काफी आगे रहा है। यहाँ अब तक कोरोना के 1 करोड़ 41 लाख से भी अधिक टेस्ट किये जा चुके हैं। बता दें की तमिलनाडु में में अब तक कोरोना के 8 लाख 18 हजार 935 मामले सामने आये हैं, यहाँ अब कोरोना पीड़ितों की संख्या केवल 12135 ही बची है।

4.कर्नाटक

साउथ इंडिया का एक और राज्य कर्नाटक भी कोरोना की टेस्टिंग के मामले काफी अव्वल रहा है, इस राज्य में भी बड़े संख्या में कोरोना के टेस्ट किये गए हैं, बता दें की अब तक कर्नाटक में 1 करोड़ 39 लाख 62 हजार से भी अधिक लोगों के कोरोना टेस्ट किये जा चुके हैं, जिनमे से 9 लाख 20 हजार 373 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव पायी गयी थी। हालाँकि अब राज्य में कोरोना की स्थिति काफी हद तक कण्ट्रोल में है क्यूंकि यहाँ एक्टिव मामलों की संख्या तेजी से घटकर केवल 12115 रह गयी है।

5.महाराष्ट्र

भारत के कोरोना से सबसे अधिक प्रभावित होने वाला राज्य महाराष्ट्र है, बता दें की यहाँ अब तक कोरोना के 19 लाख 35 हजार 636 मामले सामने आये हैं, जोकि भारत के सभी राज्यों में सबसे अधिक है, वही टेस्टिंग में मामले में ये राज्य बाकि बड़े राज्यों के मुकाबले काफी पीछे हैं। महाराष्ट्र में अब तक कोरोना के लगभग 1 करोड़ 26 लाख 72 हजार टेस्ट किये गए हैं और इस तरह से टेस्टिंग के मामले में यह राज्य 5 वें नंबर पर है। मालूम हो की इस वक्त भारत में सबसे अधिक 65238 कोरोना के एक्टिव केस केरला में हैं, इसके बाद महाराष्ट्र में 52 हजार से अधिक कोरोना के मामले सक्रिय हैं।

नोट: सभी आंकड़े Covidindia.org वेबसाइट के हिसाब से है तथा ये आंकड़े 2 जनवरी तक हैं।