बिहार में हर साल क्यों आती है इतनी बाढ़? हर साल बाढ़ आने का क्या है सबसे बड़ा कारण?

अभी जुलाई का महीना चल रहा है, जुलाई और अगस्त के महीने में मानसून की वजह से बिहार में अच्छी बारिश होती है। पर बाढ़ का खतरा तब होता है जब अत्यधिक बारिश हो और नेपाल से भी पानी छोड़ दिया जाए। बिहार में हर साल बाढ़ आती है, पिछले साल आयी बाढ़ में लाखों लोग बेघर हो गए थे तथा 200 से भी अधिक लोगों की जान चली गयी थी। बता दें की इस वर्ष भी जून महीने में बिहार के कुछ हिस्सों में काफी अच्छी बारिश हुई जिसके वजह से वहां जल जमाव हो गया था और बाढ़ जैसी ही स्थिति उत्पन्न हो गयी थी।

बिहार को देश के सबसे प्रमुख बाढ़ से प्रभावित क्षेत्र के रूप में जाना जाता है। आपको ये जानकर हैरानी होगी की उत्तरी बिहार की तकरीबन 76% आबादी बाढ़ से हल साल प्रभावित होती है। अगर जनसँख्या के हिसाब से बात करें तो पुरे देश में बाढ़ से प्रभावित क्षेत्रों के लगभग 16.5 फीसदी लोग बिहार में ही रहते हैं। बता दें की बिहार के 94163 वर्ग किमी क्षेत्र से 68800 वर्ग किमी का क्षेत्र हर साल बाढ़ की मार झेलता है। बिहार में बाढ़ के सबसे प्रमुख कारणों में से एक है नेपाल का बिहार में भारी मात्रा में पानी छोड़ना।

नेपाल के अत्यधिक पानी छोड़ने के कारण का बहुत बड़ा क्षेत्रफल जलमग्न हो जाता है तथा लाखों लोग इस बाढ़ से प्रभावित होते हैं और उसका शिकार बन जाते हैं। बिहार सरकार हर साल ये दावा करती है की उन्होंने इस बार बाढ़ से लड़ने की तैयारी अच्छी है। पर उसका कोई खास असर, जब बाढ़ आती है तो देखने को नहीं मिलता है। बिहार में हर साल आखिर क्यों इतनी बाढ़ आती है, इस विषय पर पटना के खान सर ने पिछले वर्ष एक वीडियो बनाया था, अगर आप भी इस इस विषय को अच्छे से समझना चाहते हैं तो, आपको खान सर का ये वीडियो जरूर देखना चाहिए।

Red Play बटन पर क्लिक करके देखिये पूरा वीडियो!

सबसे बड़ी विडंबना तो ये भी है की बिहार के कई जिले हर साल सूखे का शिकार हो जाते हैं वही कुछ ज़िलों में इतनी बारिश होती है और पानी आता है की वह बाढ़ ही आ जाता है