कार्लमान किंग आखिर क्यों है दुनिया की सबसे महंगी एसयूवी?

Most Expensive SUV in the world: बात करते हैं 19वीं शताब्दी के शुरुअात की. तब दुनियाभर के ज्यादातर लोग घोड़ा गाड़ी से सफर किया करते थे. तब खास लोगों के लिए कुछ खास गाड़ियां हुआ करती थीं.

फिर समय बदला और मध्य शताब्दी तक मोटर गाड़ियां बनाने पर काम शुरू हो गया. और लगभग शताब्दी के आखिर में जर्मन इंजन डिजाइनर और ऑटोमोबाइल इंजीनियर कार्ल फ्रेडरिच बेंज ने दुनिया की सबसे पहली मोटर कार बना दी.

ये साल था सन 1885.

इस तरह से ‘बेंज पेटेंट मोटरकार’ दुनिया की पहली ऑटोमोबाइल मानी जाती है. ये पहला ऐसा वाहन था, जिसमें गैस द्वारा ईंधन भरने वाला आंतरिक दहन इंजन (Internal Combustion Engine) लगा हुआ था।

कार्ल द्वारा डिजाइन ये गाड़ी दिखने में कुछ घोड़ा गाड़ी जैसी ही थी, लेकिन इसे कोई घोड़ा नहीं, बल्कि इसकी मोटर इसे खींचती थी. आधुनिक 4 पहियों वाली गाड़ी से अलग इसमें ठोस रबड़ के 3 पहिये लगे थे. पीछे के पहिये सिंगल फ्रंट व्हील से बड़े और भारी थे.

इंजन का वजन मात्र 100 किलो था, जो गाड़ी में एकदम पीछे लगा था. ये आजकल के मुकाबले केवल 0.75 हॉर्स पॉवर की ताकत दे पाता था. उस जमाने में इस बेशकीमती कार की बिक्री कीमत लगभग 1000 यूएस डॉलर रखी गई थी. हालांकि, इसे बनाने में लागत लगभग 150 डॉलर आई थी.

अब हम आते हैं 133 साल आगे यानी सन 2018 में.

आज मोटर गाड़ियों की कोई कमी नहीं है. दुनिया भर में एक से एक बढ़कर दमदार और रॉयल क्लास की गाड़ियों की भरमार है. जिनके दाम भी करोड़ों में हैं.

इसी बीच, कार्लमान किंग नाम की एक कंपनी का दावा है कि उसने दुनिया की सबसे महंगी एसयूवी (Sport Utility Vehicle) बनाई है.

ऐसे में आइए, जानते हैं कि आखिर कार्लमान किंग दुनिया की सबसे महंगी एसयूवी क्यों है, उसमें ऐसा क्या खास है –

रेगिस्तान में भी दे लग्जरी मजा

कार्लमान किंग एक क्रांतिकारी बख्तरबंद एसयूवी है, जो हॉलीवुड फिल्मों के हीरो ‘बेटमैन’ के घर जैसी प्रतीत होती है. इसमें सुरक्षा और मनोरंजन के तमाम इंतजाम किए गए हैं.

अगर आपके पास ये गाड़ी है, तो यकीन मानिये कि आप उन चुनिंदा लोगों में से हैं, जो दुनिया के किसी भी हिस्से में तपते रेगिस्तानी इलाकों में अपनी जिंदगी ऐशो-आराम में बिता सकते हैं.

कार्लमान किंग -40 डिग्री से लेकर 200 डिग्री फैरेनहाइट तक के तापमान का सामना कर सकती है.

आपको जानकर ताज्जुब होगा कि एक कार्लमान किंग को बनाने में लगभग 30,000 घंटे लगते हैं.

स्टील और कार्बन फाइबर से बना इसका बाहरी आवरण (एक्सटीरियर) मैट ब्लैक रंग में रंगा है. ये बख्तरबंद एसयूवी कार अंदर और बाहर दोनों तरफ से किसी भी खतरनाक स्थिति में आपको जीवनदान दे सकती है. इसका डायमंड कट डिजाइन इसे और लग्जरी गाड़ियों से बिल्कुल अलग करती है

most-expensive-suv-in-the-world

फोर्ड एफ-550 का दमदार इंजन

4.5 टन वजनी कार्लमान किंग को फोर्ड एफ-550 प्लैटफॉर्म पर बनाया गया है. इसकी लंबाई 6 मीटर है, जो ट्रक जैसी दिखने वाली जनरल मोटर्स की विश्व प्रसिद्ध एसयूवी ‘हमर’ से भी ज्यादा है.

इस गाड़ी में फोर्ड एफ-550 से लिया गया बेहद दमदार 6.8 लीटर वाला V8 इंजन लगा है, जो गाड़ी को 400 हॉर्स पॉवर की ताकत देता है. 4 व्हील ड्राइव और आगे-पीछे एयर सस्पेंशन के साथ इसका इंजन छह स्पीड ऑटोमेटिक गियरबॉक्स में जुड़ा है.

वैसे, आपको बता दें कि फोर्ड एफ-550, ‘फोर्ड F सीरीज सुपर ड्यूटी’ सीरीज का एक ट्रक है, जिसे फोर्ड मोटर कंपनी द्वारा बनाया गया है.

अपने दमदार इंजन और भारी वजन के कारण कार्लमान किंग की टॉप स्पीड 140 किमी प्रति घंटा आंकी गई है. वहीं, अगर कार्लमान किंग को बुलैटप्रूफ बनाया जाता है, तो इसका वजन 6,000 किलोग्राम तक पहुंच सकता है.

most-expensive-suv-in-the-world
Karlmann King is Based on Ford’s F-550 Platform. (Pic: karlmannking)

15 करोड़ रुपए है कीमत

इस एसयूवी की कीमत 20 लाख यूएस डॉलर आंकी गई है, जो विश्व में सबसे ज्यादा बताई जाती है. अगर इसे रुपए में देखें तो ये रकम तकरीबन 15 करोड़ भारतीय रुपए बैठती है.

इस तरह से ‘कार्लमान किंग’ दुनिया की पहली ऑटोमोबाइल ‘बेंज पेटेंट मोटरकार’ से लगभग 2000 गुना ज्यादा महंगी है.

माना जाता है कि चीन में बीजिंग और शंघाई के अमीर लोग अपनी लग्जरी लाइफ को जीने के लिए अपनी कार को सबसे अलग और शानदार बनाने के लिए मोडीफाई कराते हैं.

ऐसे में ये महंगी एसयूवी इन अमीरों के मनोरंजन के लिए सबसे बढ़िया साधन हो सकती है. वैसे, चीन में इसकी कीमत लगभग 12 मिलियन युआन रखी गई है.

most-expensive-suv-in-the-world
Karlmann King Starts At 2.2 Million US Dollar. (Pic: karlmannking)

चीनी कंपनी ने की है डिजाइन

स्टील्थ फाइटर जैसे लुक वाली कार्लमान किंग एसयूवी का डिजाइन चीन की ऑटोमोटिव फर्म ‘आईएटी ऑटोमोबाइल टैक्नोलॉजी’ के 1800 बेहतरीन डिजाइनरों ने मिलकर तैयार किया है. हालांकि इसकी असेंबलिंग यूरोप में हुई है.

गाड़ी के अंदर का इंटीरियर कई प्रकार के रंगों के समूह में उपलब्ध है. देखने में इसका केबिन किसी अमीर शेख के पर्सनल अंतरिक्ष जहाज के केबिन की तरह ही लगता है.

रंग-बिरंगी एलईडी लाइटों से सजी इसकी पूरी छत नीले आसमान की जैसी दिखाई देती है.

अलकंतारा फैब्रिक, सोना, गोल्डन पैनल और डार्क वुड से बनाया गया इसका इंटीरियर बहुत ही प्रभावशाली और आकर्षक है. कार्लमान किंग के अंदर दुनिया की लग्‍जरी कार निर्माता रॉल्स रॉयस जैसा इंटीरियर लगा है. ये किसी भी तरह से लास वेगास कैसीनो या एक रॉल्स रॉयस फैंटम से कम नहीं है.

इस एसयूवी को बेहतरीन इनसाइड लुक देने के लिए जो भी लग्‍जरी सामान लगाया जा सकता था, उपयोग किया गया है. इसमें हाई-फाई साउंड सिस्टम, अल्ट्रा एचडी 4K टीवी सेट, एक प्राइवेट सेफबॉक्स और फोन प्रोजैक्शन सिस्टम लगा है. एक पैनल रिट्रैक्टेबल वाइड-स्क्रीन टेलीविजन, लिमोजिन कार जैसे इसके यात्री कंपार्टमेंट को फ्रंट सीट से अलग करता है.

 

 

 

most-expensive-suv-in-the-world
Karlmann King is The world’s most expensive SUV. (Pic: newatlas)

 

इसके अलावा, एसयूवी के अंदर सैटेलाइट टीवी या फिर एक फ्रिज, सैटेलाइट फोन, कॉफी मशीन, टेबल, एसी, इनडोर नियॉन लाइट और वो हर एक चीज, जो आप एक कार के अंदर देखना चाहते हो, भी लगाया जा सकता है. कार के इन सभी फीचर्स को एक मोबाइल एप द्वारा कंट्रोल किया जा सकता है.

इसी के साथ गाड़ी में जरूरत के हिसाब से ऑडियो-विजुअल एंटरटेनमेंट सिस्टम भी लगाया जा सकता है।