इजराइल-फिलिस्तीन के बीच भीषण युद्ध कैसे रुका? सीजफायर क्या होता है और इसे कब लगाया जाता है?

इजराइली प्रधानमंत्री बनजामिन नेतन्याहू की नेतृत्व में हुई एक उच्चस्तरीय बैठक में इजराइल की सरकार ने करीब 11 दिनों तक चले भीषण युद्ध को खत्म करने का निर्णय ले लिया है। इजराइल की सरकार ने सबसे पहले अपनी तरफ से सीजफायर का एलान कर दिया है। इसके बाद से फिलिस्तीन के समर्थक तथा वहां के लोग इसे अपनी जीत बता रहे हैं। इसके साथ ही गाजा पट्टी में फिलस्तीन की जीत का जश्न भी मनाया गया। वही इजराइल के समर्थक इस लड़ाई में अपनी जीत बताकर जश्न मना रहे हैं। बता दें की इजराइल और फिलस्तीन के बीच 10 मई के बाद से हालात एकदम नियंत्रण के बहार थे।

दोनों देशों ने एक दूसरे पर खूब बन और गोले बरसाए। गाजा पट्टी से हमास ने पिछले कुछ दिनों में इजराइल पर हजारों की संख्या में राकेट दागे थे। वहीं इजराइल की सेना भी आयरन डोम के जरिये पहले राकेट से देश को बचा रही थी। तो दूसरी तरफ उसकी एयरफोर्स ने गाजा के अंदर भीषण तबाही मचाई। इजरायली एयरफोर्स ने हमास के द्वारा अपनी सुरक्षा के लिए बनाये गए कई सुरंगों को तबाह कर दिया।इसके साथ ही उसने हमास की सबमरीन और ड्रोन को भी अपने निशाने पर ले लिया। इन सब से हमास को इस युद्ध में काफी नुकसान उठाना पड़ा है।

खबरों की माने तो इजराइल की तरफ से हुए जवाबी करवाई में 250 से भी अधिक लोगों के मारे जाने की खबर है। वहीं घयलों का आंकड़ा 2500 से भी अधिक बताया जा रहा है। हालाँकि हमास द्वारा हुए हमले में इजराइल को उतना नुकसान नहीं हुआ है जितनी की शायद हमास कल्पना कर रहा था।पर ये भी बात एकदम तय है की इस बार हमास ने इजराइल को आर्थिक तौर पर नुकसान जरूर पहुंचाया। गौरतलब है की हमास एक दिन में इजराइल पर सैंकड़ों रॉकेट्स दाग रहा था।

इन रॉकेट्स को रोकने के लिए इजराइल ने आयरन डोम को तैनात कर दिया था। पर इस सिस्टम को चलाने के लिए काफी खर्च आता है। रिपोर्ट्स की माने तो एक राकेट को रोकने और उसे तबाह करने के लिए आयरन डोम  के साथ-साथ इजराइल को लाखों रूपए खर्च करने पड़ते थे। खान सर ने हाल में एक वीडियो बनाया है जिसमे उन्होंने इजराइल और फिलस्तीन के युद्ध के रुकने की सबसे बड़ी वजह बताई है, इसके साथ ही उन्होंने ये भी बताया है की सीजफायर क्या होता है और इसे कब लगाया जाता है? अधिक जानकारी के लिए आपको खान सर का ये वीडियो जरूर देखना चाहिए

Red Play बटन पर क्लिक करके देखिये पूरा वीडियो

इस युद्ध को रोकने के नाद भी इजराइल शांत नहीं है, उसने इस संघर्ष को रोका जरूर है पर भविष्य के लिए फिलस्तीन के हमास को कठोर चेतावनी दी है और कहा है की उन्हें आने वाले दिनों में इस से ज्यादा कठोर परिणाम देखने को मिलेंगे।