कारपेंटर की बेटी बनी IPS अफसर, पिता जिस जिले में काम करते उसी जिले की SP बनी

Success Story Of Sangeeta Kalia: एक ऐसी महिला की कहानी जिससे अपराधी कापने लगते है। एक ऐसी  महिला जिन्होंने भारत में एक अलग पहचान बनाई जिसे अपने प्रदेश में Lady दबंग के नाम से जाना गया। इन्होंने अपने सख्त रवैये से बहुत से केस को कुछ दिनों में सुलझा दिया। इस महिला अफसर का नाम है Sangeeta Kalia जो 2009 बैच की IPS अधिकारी है।

Sangeeta Kalia Success Story

Sangeeta Kalia Success Story :

 संगीता कालिआ के जीवन पर प्रकाश डालते है संगीता कालिआ (IPS Sangeeta Kalia) हरियाणा के भिवानी जिले की निवासी है। एक मिडिल क्लास फैमिली में जन्म हुआ और पिता पुलिस विभाग में कारपेंटर के रूप में काम किया करते। इनकी प्रारंभिक शिक्षा भिवानी से ही हुई जो मूल रूप से एक छोटा आबादी वाला क्षेत्र है जहाँ लड़कियों को पढाई का महत्व जायदा नहीं दिया जाता।

इनके पिताजी फतेहाबाद में कारपेंटरी का काम करते पिताजी को काम करने से छुट्टी नहीं मिल पता जिससे बच्चे से रूबरू हो। संगीता बचपन से हर चीझ को जानना चाहती थी हमेशा सवाल पूछती करती इनका जवाब अक्सर पापा दिया करते जब भी पापा आतें ये सवाल पूछने लग जाती।

एक दिन अपने पिताजी को परेशान देखकर पूछा की सबसे सम्मान की Job क्या होती है तो इनके पिताजी ने कहा की IAS बनना UPSC निकालना। उस दिन Sangeeta Kalia ने अपने मन में ठान लिया की मुझे UPSC निकालना है। अपने छोटी सी बेटी के मुँह से यह बात सुनकर इनके पिताजी बहुत खुश हुए और कहें की मेहनत दिन रात करूंगा तुम्हे IAS बनाऊंगा।

MIssion UPSC Sangeeta Kalia

6 नौकरी छोड़ दी UPSC पास करने के लिए 

Sangeeta Kalia अपने शिक्षा पूरी कर UPSC की तैयारी में लग गयी। 2005 में इन्होंने पहली बार UPSC का एग्जाम दिया लेकिन उसमे सफल नहीं हो पायी। इन्होंने रेलवे का एग्जाम दिया उसमे सलेक्शन हो गया लेकिन इनको तो अपने पापा का सपना पूरा करना था। इन्होंने रेलवे की जॉब्स से रिजाइन दे दिया और फिर UPSC की तैयारी करने लग गयी। अपने तीसरे प्रयास में इन्होंने UPSC एग्जाम में सफलता पायी और IPS के पद पर नियुक्त हुई।

Sangeeta Kalia IPS Success Story

2009 में यह IPS बन गयी और जिस जिले में पिता कारपेंटर थे उसी जिले में यह SP के पद पर इनकी पहली पोस्टिंग हुई। जब यह पिताजी के सामने गयी तो पिताजी ने इन्हे गर्व से Salute किया अपने बेटी को इस मुकाम को देखकर इनके पिताजी का सीना चौड़ा हो गया। बड़े-बड़े अधिकारी के बेटे और बेटियां IAS और IPS बन नहीं पातें लेकिन यहाँ एक कारपेंटर की बेटी IPS बन गयी सीना चौड़ा होने का कारण भी जायज था।

इन कारण से सुर्खियों में आए जब भारतीय जनता पार्टी के मंत्री अनिल वीज से भीड़ गयी 

जिस समय उनकी पोटिंग फतेहाबाद में SP के पद पर हुई तभी एक घटना सोशल मीडिया पर तेजी से फैल गयी। दरअसल 27 December 2015 को तत्कालीन स्वास्थ मंत्री अनिल वीज ने अवैध शराब के मुद्दे पर बैठक रखी थी उस समय वह कष्ट निवारण समिति के अध्यक्ष की एक बैठक ले रहे थे फिर एक शिकायत के सुनवाई के समय संगीता कालिआ को गेटआउट कह दिया लेकिन वहाँ से IPS Sangeeta Kalia उठ के नहीं गयी। अनिल वीज खुद बैठक छोड़ के चले गए इसके घटना के बाद Sangeeta Kalia का ट्रांसफर रेवाड़ी हो गया।

IPS Sangeeta Kalia And Anil Veej

IPS Sangeeta Kalia ने अपने जिले में लड़कियों के लिए सेल्फ डिफेन्स ट्रेनिंग सेंटर खोल रखी है जहाँ लड़कियों मुफ्त अपने सुरक्षा के लिए कराटा, बॉक्सिंग का परिक्षण दिया जाता है।

IPS Sangeeta Kalia कहती है की मेरी सबसे पहली प्राथमिकता यह है की ” महिलाओं के विरूद्ध हो रहे अपराधों पर तत्काल कार्यवाही करना उन्होंने यह भी कहा किसी भी सूरत में अपराध और अपराधियों को बर्दास्त नहीं किया जाएगा  “

ऐसे ही Success Story पढ़ने के लिए कहानी पर क्लिक करें।