चायपत्ती बेचकर घर चलाते हैं पिता, बेटी बनी बिहार टॉपर

Bihar Board 12th Topper: बिहार बोर्ड 12th के रिजल्ट आने से छात्र और छात्रा तो खुश है ही साथ में उनके माता पिता अपने बेटे और बेटी पर गर्व कर रहे है। भागलपुर के लहेरी टोला के निवासी शंकर गुप्ता जो चायपत्ती बेचने का काम करते है उनकी बेटी के टॉपर बनने से पुरे घर में खुशी का माहौल है।

बिहार बोर्ड के रिजल्ट में थोड़ी देरी होने के कारण सभी की निगाहें अपने मोबाइल और लैपटॉप में टिकी थी। बच्चों में ख़ुशी का माहौल था। भागलपुर के निवासी नंदनी भारती ने आर्ट्स में पुरे बिहार में दूसरा स्थान लाकर पुरे भागलपुर और बिहार में अपना नाम रोशन कर दी। इन्होने अपने पांचों विषय में 461 अंक प्राप्त किए है।नंदनी भारती आगे IAS बनाना चाहती है और देश और अपने बिहार के लिए कुछ कारण चाहती है।

सरा स्थान लाई है। नंदनी भारती को इतिहास में 97%, राजनीतिशास्त्र में 96%, मनोविज्ञान में 93%, इंग्लिश में 87%, एवं हिंदी में 88% अंक हासिल किए है। इन्होंने अपनी पढाई TNB कॉलेज से की है इसके प्रिंसिपल ने फ़ोन पर इनको बधाई संदेश दिया।

नंदनी भारती बताती है कैसे उन्होंने अपनी पढाई की ?

नंदनी भारती Lockdown में 8-10 घंटा पढाई करती और प्रतिदिन पुरे सब्जेक्ट को पढ़ा करती। हर सब्जेक्ट को 2 घंटे का मिनिमम समय दिया करती। उन्होंने कहा की मैंने एक सब्जेक्ट को 2-3 बार पढ़ ली थी जिसके कारण मुझे सवाल अचे से आतें थे। यह बताती है की पुरे सब्जेक्ट डेली पढ़ने से आपका Revision होता है और Revision किसी भी Exam के लिये बहुत जरुरी है।

मेरे पढ़ने में मेरी माँ बहुत मदद करती थी इनकी मां जो पेशे से एक प्राइवेट शिक्षक है और बच्चे को ट्यूशन भी देती है। इन्होने मैट्रिक में 450 अंक प्राप्त हुए थे। तीन बहन में सबसे छोटी है इनके माता पिता कहते है अपने बेटी को पढ़ने के लिए जो काम करना होगा मैं करूँगा लेकिन अपने नेति का IAS बनने का सपना जरूर पूरा करंगा।

You might also like