कोरोना की दूसरी लहर का पीक कब आएगा? कितनी खतरनाक होगी तीसरी लहर? जानिए खान सर से!

भारत इस समय दुनिया में कोरोना से सबसे अधिक प्रभावित होने वाला देश है। दुनिया में जनसँख्या के नजरिये से दूसरा सबसे बड़ा देश इंडिया इस समय कोरोना वायरस के सामने बेबस नजर आ रहा है। भारत में सबसे बड़ी चिंता का विषय यह है की यहाँ मामले तो हर दिन के साथ बढ़ ही रहे हैं। पर ये आंकड़े बहुत ही ज्यादा तेजी से बदल रहे हैं। 3 लाख से 4 लाख तक पहुंचने में भारत को बस कुछ ही दिन लगे थे। इसके साथ ही देश में पॉजिटिविटी रेट भी काफी ज्यादा बढ़ गयी है। पहले जहाँ ये आंकड़ा तकरीबन 5 से 10 परसेंट के बीच हुआ करता था, वो अब 20% से 30% तक पहुंच गया है।

इस समय सबसे बड़ी चिंता का विषय है कोरोना से हो रही मृत्य की दरों में लगातार वृद्धि। जहाँ भारत में पहले ये आंकड़ा एवरेज 2 फीसदी के पास था, वो भी इस महीने काफी तेजी से बढ़ा है। देश में कोरोना वायरस के नए वररिएन्ट भी लगातर मिल रहे हैं। इनमे से कुछ वैरिएंट्स तो ऐसे हैं, जिन्हे पिछले साल के कोरोना वायरस की तुलना में 10 से 15 गुना तक ज्यादा खतरनाक बताया जा रहा है। भारत में कोरोना के बढ़ते प्रकोप के बाद इस वायरस से जुड़े कई तरह के दावे और भविष्यवाणी भी की जा रही है। कोरोना की दूसरी लहर कब पिक पर आएगी इसको लेकर भी खूब चर्चा है।

कोरोना वायरस को लेकर “खान सर” ने कहा है की इसका पीक इस महीने में ही आ सकता है। उन्होंने तीसरा लहर कितना खतरनाक हो सकता है उस बारे में भी बताया है। निचे Red Play बटन पर क्लिक करके देखिये खान सर का वीडियो!

अभी भारत में कोरोना की दूसरी लहर चल रही है, पर तीसरी लहर की तैयारी कैसी होनी चाहिए। इसे लेकर भी लोग अभी से चिंतित है। अलग-अलग डॉक्टर्स और मेडिकल एक्सपर्ट्स की राय कोरोना वायरस के फ्यूचर के बारे भिन्न है। भारत में किसी-किसी राज्य जैसे महाराष्ट्र में कोरोना के मामले पिछले कुछ दिनों में कम तो हुए हैं। पर ज्यादातर जगह इसमें बढ़ोतरी ही देखने को मिली है। एक्सपर्ट्स की माने तो मई के आखिर से मामले कम होने शुरू हो सकते हैं। ऐसे में अगर ये होता है तो भारत के लिए काफी अच्छा हो सकता है।